रामचरितमानस अर्थ सहित PDF Download (हिंदी अनुवाद)

रामचरितमानस पाठ PDF | रामचरितमानस अर्थ सहित PDF Download | रामचरितमानस बालकाण्ड अर्थ सहित PDF | रामचरितमानस उत्तरकाण्ड अर्थ सहित PDF | रामचरितमानस गीता प्रेस गोरखपुर PDF | रामचरितमानस हिंदी अनुवाद | रामचरितमानस की चौपाई अर्थ सहित

श्री रामचरितमानस अवधी भाषा में गोस्वामी तुलसीदास द्वारा १६वीं सदी में रचित एक इतिहास की घटना है। इस ग्रन्थ को अवधी साहित्य (हिंदी साहित्य) की एक महान कृति माना जाता है। इसे सामान्यतः ‘तुलसी रामायण’ या ‘तुलसीकृत रामायण’ भी कहा जाता है।

रामचरितमानस भारतीय संस्कृति में एक विशेष स्थान रखता है। उत्तर भारत में ‘रामायण’ के रूप में बहुत से लोगों द्वारा प्रतिदिन पढ़ा जाता है। शरद नवरात्रि में इसके सुन्दर काण्ड का पाठ पूरे नौ दिन किया जाता है। रामायण मण्डलों द्वारा मंगलवार और शनिवार को इसके सुन्दरकाण्ड का पाठ किया जाता है।

In this article, we’ll provide you Ramcharitmanas in Hindi PDF Format, available to download from the official website at ia801600.us.archive.org or download using the direct link below.

रामचरितमानस अर्थ सहित PDF Download (हिंदी अनुवाद)

  • Author: गोस्वामी तुलसीदास
  • Pages: 1242
  • Size: 74.92
  • Format: Application/PDF
  • Language: Hindi
  • Publisher: बेलवेडियर प्रिण्टिंग प्रेस, इलाहाबाद
  • Classification: वैदिक साहित्य
  • Keywords: रामायण
  • Title: रामचरितमानस
  • Type: Book
[xyz-ihs snippet=”ramcharitmanas”]

Download the PDF : Click Here

तुलसीदास रामचरितमानस अर्थ सहित

श्रीरामचरितमानस १५वीं शताब्दी के कवि गोस्वामी तुलसीदास द्वारा लिखा गया महाकाव्य है, जैसा कि स्वयं गोस्वामी जी ने रामचरित मानस के बालकाण्ड में लिखा है कि उन्होंने रामचरित मानस की रचना का आरम्भ अयोध्या में विक्रम संवत १६३१ (१५७४ ईस्वी) को रामनवमी के दिन (मंगलवार) किया था। गीताप्रेस गोरखपुर के संपादक श्री हनुमान प्रसाद पोद्दार के अनुसार रामचरितमानस को लिखने में गोस्वामी तुलसीदास जी को २ वर्ष ७ माह २६ दिन का समय लगा था और उन्होंने इसे संवत् १६३३ (१५७६ ईस्वी) के मार्गशीर्ष शुक्लपक्ष में राम विवाह के दिन पूर्ण किया था। इस महाकाव्य की भाषा अवधी है।

रामचरितमानस अध्याय

रामचरितमानस को तुलसीदास ने सात काण्डों में विभक्त किया है:

  1. बालकाण्ड
  2. अयोध्याकाण्ड
  3. अरण्यकाण्ड
  4. किष्किन्धाकाण्ड
  5. सुन्दरकाण्ड
  6. लंकाकाण्ड (युद्धकाण्ड)
  7. उत्तरकाण्ड

रामचरितमानस के रचयिता कौन है?

गोस्वामी तुलसीदास जी

रामचरितमानस किस भाषा में लिखी गई है?

अवधी भाषा में

रामचरितमानस में कितने कांड है?

रामचरितमानस को तुलसीदास ने सात काण्डों में विभक्त किया है। इन सात काण्डों के नाम हैं - बालकाण्ड, अयोध्याकाण्ड, अरण्यकाण्ड, किष्किन्धाकाण्ड, सुन्दरकाण्ड, लंकाकाण्ड (युद्धकाण्ड) और उत्तरकाण्ड

रामचरितमानस में कितनी चौपाई है?

इस ग्रंथ में 7 कांड हैं और उन्हीं के अंतर्गत इस ग्रंथ में 27 श्लोक, 4608 चौपाई, 1074 दोहे, 207 सोरठा और 86 छन्द हैं।

हनुमान चालीसा रामचरितमानस के किस कांड में

अकबर ने गोस्वामी तुलसीदास जी को कारागार में कैद करवा दिया। कारावास में गोस्वामी जी ने अवधी भाषा में हनुमान चालीसा लिखी।

We hope this article helped you to Download रामचरितमानस अर्थ सहित PDF Download (हिंदी अनुवाद). If the download link of this article is not working or you are feeling any other issue with it, then please report it by choosing Contact Us link. If the Ramcharitmanas in Hindi PDF is a copyrighted material which we will not supply its PDF or any source for downloading at any cost.

Leave a Comment